Trending Quotes


Text Quotes


Message Quotes

img

अभी नहीं तो कभी नहीं

 जर्जर मकान आये दिन गिरते रहते हैं, पर भवन कितने ही विशालकाय हो, यदि आधार स्तम्भ सुदृढ़ हो तो वे भयंकर भूचालों में भी अविचलित खड़े रहते हैं। तूफान हो, झंझावात हों, समुद्र गहरा हो, तो भी कुशल माँझी नाव किनारे पहुँचा देते हैं। युद्ध कितना ही भीषण हो, अनेक...View More

img

हमारे जीवन से कुछ सीखें

हमारी कितनी रातें सिसकते बीती हैं, कितनी बार हम बालकों की तरह बिलख- बिलख कर, फूट- फूट कर रोये हैं। इसे कोई कहाँ जानता है? लोग हमें संत, सिद्ध,...View More

img

अंतिम संदेश- वंदनीया माताजी

जिन चरणों में अपने आप को समर्पित किया, उनके बिना जीवन का एक- एक क्षण पीड़ा के पहाड़ की तरह बीत रहा है ।। जिस दिन...View More

Chintan Quotes

समाज निर्माण


इक्कीसवीं सदी का गंगावतरण - (क्रान्तिधर्मी साहित्य पुस्तकमाला -22)

अत्यन्त व्यस्त, असमर्थ लोगों के लिए एक प्रतीक साधना भी युग- सन्धि पुरश्चरण के अन्तर्गत नियोजन की गई...View More
Pandit Shriram Sharma Acharya
img

युग निर्माण योजना


इक्कीसवीं सदी का गंगावतरण - (क्रान्तिधर्मी साहित्य पुस्तकमाला -22)

अत्यन्त व्यस्त, असमर्थ लोगों के लिए एक प्रतीक साधना भी युग- सन्धि पुरश्चरण के अन्तर्गत नियोजन की गई...View More
Pandit Shriram Sharma Acharya
img

सफल सार्थक जीवन


प्रगतिक्रम- व्यक्तित्व में प्रगति का क्रम बराबर बना रहे, इसके चार सूत्र हैं- आत्म समीक्षा, आत्म शोधन, आत्म निर्माण एवं आत्म विकास।
() आत्म समीक्षा- हम वर्तमान में किस स्तर पर हैं...View More
Pandit Shriram Sharma Acharya
img

आध्यात्मिक चिंतन धारा


प्रगतिक्रम- व्यक्तित्व में प्रगति का क्रम बराबर बना रहे, इसके चार सूत्र हैं- आत्म समीक्षा, आत्म शोधन, आत्म निर्माण एवं आत्म विकास।
() आत्म समीक्षा- हम वर्तमान में किस स्तर पर हैं...View More
Pandit Shriram Sharma Acharya
img

Published Quotes


Satchintan Board Quotes