• सफल सार्थक जीवन
  • प्रगति की आकांक्षा
  • सुव्यवस्थित पारिवारिक संबंध
  • बाल निर्माण
  • मानवीय गरिमा
  • गायत्री और यज्ञ
  • भारतीय संस्कृति
  • धर्म और विज्ञान
  • समय का सदुपयोग
  • स्वस्थ जीवन
  • आध्यात्मिक चिंतन धारा
  • भाव संवेदना
  • शांतिकुंज -21 वीं सदी की गंगोत्री
  • कर्मफल और ईश्वर
  • स्वाध्याय और सदविचार
  • प्रेरक विचार
  • समाज निर्माण
  • युग निर्माण योजना
  • वेदो से दिव्य प्रेरणाये
  • शिक्षा और विद्या
  • विपरीत परिस्थितियों में भी जो ईमान, साहस और धैर्य को कायम रख सके,वस्तुतः वही सच्चा शूरवीर है |


    By Pandit Shriram Sharma Acharya
    Share on Google+ Email

    ज्ञान तीन प्रकार से मिल सकते हैं- मनन से, अनुसरण से और अनुभव से


    By Pandit Shriram Sharma Acharya
    Share on Google+ Email

    ब्रह्मचर्य ही जीवन है, तेज है, शक्ति है और सामर्थ्य है।



    By Pandit Shriram Sharma Acharya
    Share on Google+ Email

    ईर्ष्या और द्वेष की आग में जलने वाले अपने लिए सबसे बड़े शत्रु हैं।


    By Pandit Shriram Sharma Acharya
    Share on Google+ Email

    उत्कृष्ट जीवन का स्वरूप हे- दूसरों के प्रति नम्र और अपने प्रति कठोर होना।


    By Pandit Shriram Sharma Acharya
    Share on Google+ Email

    मानवता की सेवा से बढ़कर ओर कोई काम बड़ा नहीं हो सकता।


    By Pandit Shriram Sharma Acharya
    Share on Google+ Email

    ज्ञान अक्षय है उसकी प्राप्ति मृत्यु शैय्या तक बन पड़े तो भी उस अवसर को हाथ से न जाने दें।


    By Pandit Shriram Sharma Acharya
    Share on Google+ Email

    अच्छे काम का प्रयोग अपने से ही आरम्भ करो।


    By Pandit Shriram Sharma Acharya
    Share on Google+ Email

    जीवन के चिह्न हैं- प्रेरणा, स्फूर्ति, उत्साह, लगन और प्रसन्नता।


    By Pandit Shriram Sharma Acharya
    Share on Google+ Email

    गुण, कर्म और स्वभाव की उत्कृष्टता ही सबसे बडी़ पूजा है।


    By Pandit Shriram Sharma Acharya
    Share on Google+ Email

    सामूहिक हित को देखिए, व्यक्तिगत स्वार्थ को नहीं।


    By Pandit Shriram Sharma Acharya
    Share on Google+ Email

    शान्तिकुंज एक विश्वविद्यालय है। कायाकल्प के लिए बनी एक अकादमी है। हमारी सतयुगी सपनों का महल है।


    By Pandit Shriram Sharma Acharya
    Share on Google+ Email