समय रूपी अमूल्य उपहार का एक क्षण भी आलस्य और प्रमाद में नष्ट न करें।


By Pandit Shriram Sharma Acharya
Share on Google+ Email

ದೀರ್ಘ ಜೀವನದ ಒಂದೇ ಒಂದು ಗುಟ್ಟೆಂದರೆ ಹಸಿವಾಗದೆ ಏನನ್ನೂ ತಿನ್ನದಿರುವುದು.



ಪಂ. ಶ್ರೀರಾಮ ಶರ್ಮಾ ಆಚಾರ್ಯ


By Pandit Shriram Sharma Acharya
Share on Google+ Email

जो असंभव कार्य को संभव करके दिखाए उसे ही प्रतिभा कहते हैं।


By Pandit Shriram Sharma Acharya
Share on Google+ Email

सत्साहित्य सत्पुरुषों का मूर्तिमान हृदय एवं मस्तिष्क है।


By Pandit Shriram Sharma Acharya
Share on Google+ Email

भाग्यवादी ऐसे पंगु है, जो दूसरों के कंधों पर चलता है।


By Pandit Shriram Sharma Acharya
Share on Google+ Email

मनुष्य का जीवन कठिनाइयों में पलकर ही खिलता है।


By Pandit Shriram Sharma Acharya
Share on Google+ Email

परमात्मा को प्राप्त करने और प्रसन्न करने का मार्ग उसके नियमों पर चलना है।


By Pandit Shriram Sharma Acharya
Share on Google+ Email

He alone lives a worthwhile life, who has a cool head, warm blood, a loving heart, and zest for life.


By Pandit Shriram Sharma Acharya
Share on Google+ Email

धैर्य, अनुद्वेग, साहस, प्रसन्नता, दृढ़ता और समता की संतुलित स्थिति सदैव बनाये रखें।


By Pandit Shriram Sharma Acharya
Share on Google+ Email

जीवन उसी का सार्थक है जो सदा परोपकार में प्रवृत्त है।



By Pandit Shriram Sharma Acharya
Share on Google+ Email

आज का नया दिवस हमारे लिए एक अनमोल अवसर है।!


By Pandit Shriram Sharma Acharya
Share on Google+ Email

ज्ञान कहीं से, किसी से, किसी मूल्य पर मिले; लेना अच्छा है।


By Pandit Shriram Sharma Acharya
Share on Google+ Email