Share on Google+ Email
ईश्वर को मात्र नाम स्मरण से नहीं, उसके कामों के प्रति लगनशील रहकर ही प्रसन्न किया जा सकता है |


Pandit Shriram Sharma Acharya
Comments

Post your comment