Share on Google+ Email
आत्मा को देखें, समझें और उसी को प्राप्त करें, क्योंकि वही हमारा सच्चा साथी और शुभचिंतक है।


Pandit Shriram Sharma Acharya
Comments

Post your comment