Share on Google+ Email
वह आत्मा अनाथ और अपंग ही रहेगी, जिस पर परमात्मा का प्रकाश न बरसता हो।


Pandit Shriram Sharma Acharya
Comments

Post your comment