Share on Google+ Email
अपनी आत्मा को सबमें- सबकी आत्मा को अपने में समाया देखना ही अध्यात्म है।


Pandit Shriram Sharma Acharya
Comments

Post your comment