Share on Google+ Email
परमात्मा ज्ञानस्वरूप है। विचार और ज्ञान के रूप में ही वह मानवीय अंतःकरण में प्रकाश और प्रेरणा उत्पन्न करता है।


Pandit Shriram Sharma Acharya
Comments

Post your comment