Share on Google+ Email
जो महापुरुष बनने के लिए प्रयत्नशील है, वे धन्य हैं।


Pandit Shriram Sharma Acharya
Comments

Post your comment
KESHAW DHRUV
2014-10-23 13:08:20
jai gurudev