Share on Google+ Email
आशावाद और ईश्वरवाद एक ही रहस्य के दो नाम हैं।



Pandit Shriram Sharma Acharya
Comments

Post your comment