Share on Google+ Email
ईश्वर को कल्पवृक्ष कहा गया है पर कुछ पाने के लिए निकट जाना और छाया में बैठना पड़ता है।


Pandit Shriram Sharma Acharya
Comments

Post your comment