आध्यात्मिक चिंतन धारा

गृहस्थ एक तपोवन है, जिसमें संयम, सेवा और सहिष्णुता की साधना करनी पड़ती है।

img

Published Quotes